करणी सेना प्रमुख लोकेंद्र सिंह कल्वी ने मीडिया से कहा, "हमें उस समय एक छोटे से स्पष्टीकरण की जरूरत थी कि पद्मावती व अलाउद्दीन खिलजी के बीच कोई दृश्य नहीं है. हम इससे ही संतुष्ट हो जाएंगे, लेकिन अब हम किसी तरह का समझौता नहीं करेंगे."

राजपूत करणी सेना प्रमुख लोकेंद्र सिंह कल्वी ने कहा, ‘‘फिल्म को डिब्बाबंद कर इसे जौहर की आग में फेंक देना चाहिए. 

फिल्म के  निर्माता संजय लीला भंसाली  की दीपिका पादुकोण, रणवीर सिंह और शाहिद कपूर स्टारर फिल्म ' पद्मावत' को भले ही सेंसर बोर्ड से हरी झंडी मिल गई है. लेकिन फिल्म की मुश्किलें हैं कि खत्म होने का नाम ही नहीं ले रही हैं.  

लोकेंद्र सिंह कल्वी  ने बुधवार को कहा कि वह 'पद्मावत' के निर्माताओं के साथ किसी तरह का समझौता नहीं करेगी. संगठन ने संजय लीला भंसाली की फिल्म जब कभी भी रिलीज हो, उस वक्त 'जनता कर्फ्यू' का आह्वान किया है. 

करणी सेना प्रमुख लोकेंद्र सिंह कल्वी ने मीडिया से कहा, "हमें उस समय एक छोटे से स्पष्टीकरण की जरूरत थी कि पद्मावती व अलाउद्दीन खिलजी के बीच कोई दृश्य नहीं है. हम इससे ही संतुष्ट हो जाएंगे, लेकिन अब हम किसी तरह का समझौता नहीं करेंगे." 

इस वजह से फिल्म में खिलजी और रानी पद्मावती के बीच किसी तरह के अंतरंग दृश्य होने का सवाल पैदा हुआ. इसके बाद करणी सेना के कार्यकर्ताओं ने जयपुर में फिल्म के सेट पर संजय लीला भंसाली पर हमला किया व कोल्हापुर में एक अन्य सेट पर तोड़फोड़ की गई.  

राजस्थान में नही होगी रिलीज़

 मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने साफ कर दिया है कि राजस्थान में पद्ममावत रिलीज नहीं होगी. उन्होंने कहा है कि प्रदेश की जनता की भावनाओं का सम्मान करते हुए राज्य में फिल्म ‘‘पद्मावत ’’का प्रदर्शन नहीं किया जाएगा

 प्रदेश के किसी भी सिनेमाघर में यह फिल्म नहीं दिखाई जाएगी. राजे ने कहा है कि रानी पद्मिनी का बलिदान प्रदेश के मान-सम्मान और गौरव से जुड़ा हुआ है, इसलिए रानी पद्मिनी हमारे लिए सिर्फ इतिहास का एक अध्याय भर नहीं, बल्कि हमारा स्वाभिमान हैं. 

उनकी मर्यादा को हम किसी भी सूरत में ठेस नहीं पहुंचने देंगे. उन्होंने इस सम्बन्ध में गृहमंत्री गुलाबचंद कटारिया को निर्देश भी दिए.  

 पहले यह एक दिसंबर को रिलीज होने वाली थी. संजय लीला भंसाली द्वारा निर्देशित फिल्म में दीपिका पादुकोण, शाहिद कपूर और रणवीर सिंह प्रमुख भूमिकाओं में हैं. 

कई राजपूत समूहों ने आरोप लगाया है कि फिल्म में ऐतिहासिक तथ्यों के साथ छेड़छाड़ की गई है, हालांकि भंसाली ने इससे इनकार किया 

गोवा में 'पद्मावत' की रिलीज को मिली हरी झंडी

गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर का कहना है कि अगर सेंसर बोर्ड ने 'पद्मावत' को प्रमाणित कर दिया है तो गोवा सरकार को राज्य में फिल्म की रिलीज को लेकर कोई आपत्ति नहीं है.  पर्रिकर ने कहा, "यदि उनके पास सेंसर प्रमाण-पत्र है, तो हमें कोई आपत्ति नहीं है. यदि कानून-व्यवस्था का कोई मुद्दा है, तो हम इसे देख लेंगे." उन्होंने कहा, "अब तक, हमें फिल्म रिलीज होने की कोई सूचना नहीं मिली है. यदि इसके पास सेंसर प्रमाणपत्र है तो हम इसे नहीं रोक रहे." उन्होंने कहा, "यदि वे कुछ संशोधनों के साथ सेंसर प्रमाणपत्र के साथ आते हैं, तो हमें इसमें हस्तक्षेप का कोई बड़ा कारण नहीं दिख रहा है."

YOUR REACTION?


You may also like